Home उपन्यास / Upnyas-Novel बनारस टॉकीज / Banaras Talkies by Satya Vyas Download Free PDF

बनारस टॉकीज / Banaras Talkies by Satya Vyas Download Free PDF

पुस्तक नाम : बनारस टॉकीज / Banaras Talkies
Book Language : हिंदी | Hindi
पुस्तक का साइज़ : 2.5 MB
  • कुल पृष्ठ : 192

  • एक संपूर्ण कॉलेज। तीन अपूर्ण छात्र।
    एक देखभाल छात्रावास।
    तीन लापरवाह साथी।
    निर्णायक वर्ष।
    तीन अज्ञानी आत्माएं।
    एक बम विस्फोट और एक करीबी दाढ़ी।
    BHU के गेट के माध्यम से जीवन में आपका स्वागत है।

    बनारस टॉकीज / Banaras Talkies PDF, बनारस टॉकीज / Banaras Talkies PDF Download, बनारस टॉकीज / Banaras Talkies Book, बनारस टॉकीज / Banaras Talkies epub download ,बनारस टॉकीज / Banaras Talkies in Hindi PDF Download , बनारस टॉकीज / Banaras Talkies किताब डाउनलोड करें, बनारस टॉकीज / Banaras Talkies Kitab Download kro, बनारस टॉकीज / Banaras Talkies Read Online in Hindi Free, बनारस टॉकीज / Banaras Talkies Book Download Free, बनारस टॉकीज / Banaras Talkies Book by   सत्य व्यास / Satya Vyas  

    दर्शकों के समक्ष भरोसा हासिल करना

    दर्शकों के सम्मुख अक्सर एक असाधारण उत्तेजना का अनुभव होता है। दर्शकों की उत्सुकता से भरी आँखें इस उत्तेजना को जन्म देती हैं। दर्शकों की आँखों से आँखें मिलाने पर यह उत्तेजना और प्रखर हो जाती है। अधिकतर वक्ता इस अनजाने लेकिन वास्तविक माहौल में फैली, महसूस की जानेवाली, क्षणिक एवं बयान न की जा सकनेवाली सिहरन से उत्तेजित होते रहे हैं। अधिकतर लेखक यह भी मानते हैं कि वक्ता की आँखें दर्शकों को आकर्षित करने का भी काम करती हैं। यह एक ऐसा प्रभाव है, जो मौजूदा चर्चा में शामिल चित्रण के विपरीत है। वक्ता पर दर्शकों की गड़ी आँखों का प्रभाव केवल शुरुआती दौर में पड़ता है जैसे ही वाक्पटुता का सौंदर्य प्रकाशित होता है, दर्शकों की आँखों में छुपा भय छँटने लगता है।

    विलियम पिटेंजर, तात्कालिक भाषण

    सार्वजनिक तौर पर बोलने का प्रशिक्षण ले रहे छात्र अकसर पूछते हैं कि ‘दर्शकों के समक्ष व्याकुलता और भय

    की भावना पर कैसे काबू पाया जाए?” रेलगाड़ी में सफर करते समय क्या आपने कभी पास के मैदानों में घास चर रहे उन घोड़ों की तरफ ध्यान दिया है, जो रेलगाड़ी की घड़घड़ाहट के बावजूद एक बार भी सिर उठाकर नहीं देखते, जबकि थोड़ी दूरी पर स्थित

    स्टेशन के पास से जब रेलगाड़ी गुजरती है तो किसान की पत्नी डरे हुए घोड़े को सँभालने में जुटी नजर आती है? गाड़ियों की आवाज से डरनेवाले घोड़े का भय दूर करने का क्या उपाय है? क्या उसे ऐसे दूर-दराज इलाके में चराया जाए, जहाँ मोटरगाडियाँ न आती हो या उसको ऐसी जगहों पर अकसर ले जाना चाहिए, जहाँ आम तौर पर मशीनों की घड़घड़ाहट सुनने को मिलती हो ? इस उदाहरण के जरिए अपने भीतर छुपे व्याकुलता और भय को दूर करो दर्शकों का बार-बार सामना करने से

    हिचकिचाहट दूर हो जाती है। किसी लेख को पढ़कर मंच के भय से मुक्त होना संभव नहीं है। पुस्तक के जरिए पानी में बरताव करने के उत्तम सुझाव तो मिल सकते हैं, लेकिन तैराकी सीखने के लिए पानी में छलाँग लगानी हो पड़ती है। हालाँकि आजकल कई ऐसी तैराकी की पोशाकें मौजूद हैं, जिनको पहनकर समुद्र के किनारे भी गीला हुए बिना मौज-मस्ती की जा सकती है; लेकिन इन पोशाकों को पहनकर तैरना नहीं सीखा जा सकता। तैराकी सीखने के लिए पानी में कूदना ही एकमात्र रास्ता होता है।

    यहाँ क्लिक कर किताब को रेट करें!
    (कुल: 11 औसत: 4.5)
    सत्य व्यास / Satya Vyas
    सत्य व्यास पेशेवरों की वर्तमान पीढ़ी से शौकिया लेखक हैं। प्रतिष्ठित लॉ स्कूल बीएचयू से लॉ ग्रेजुएट और लॉजिस्टिक प्रोफेशनल सत्य व्यास ने नए जमाने के हिंदी लेखन में अपने लिए एक जगह बनाई है। उनका पहला उपन्यास बनारस टॉकीज एक बेस्टसेलर है, जिसमें एक वर्ष में सात संस्करण (और गिनती) हैं। अमेज़ॅन इंडिया द्वारा इस उपन्यास को 2015 की शीर्ष 5 हिंदी पुस्तकों में से एक के रूप में चुना गया है। दिली दरबार उनका दूसरा उपन्यास है। एक शौकीन चावला पाठक, एक ब्लॉगर, दिल से एक कवि और एक कच्चे किसान, वह वर्तमान में कुछ पटकथा पर काम कर रहा है। वह वर्तमान में राउरकेला में रहते हैं।
    RELATED ARTICLES

    कैसीनो रीगाल | Casino regal Hindi PDF Download Free By Surender Mohan Pathak

    'एम' और जेम्स बॉन्ड हाइड पार्क में एक बेंच पर बैठे थे। वह एक चाइनीज रेस्टोरेंट से निकला था और वहीं बैठा...

    रंगीला रसूल | Rangeela Rasul Hindi PDF Download Free By Pandit Chamupati M.A.

    रंगीला रसूल या रंगीला रसूल (जिसका अर्थ है प्रोमिससियस पैगंबर) 1920 के दशक के दौरान पंजाब में आर्य समाज और मुसलमानों के...

    मैं पाकिस्तानी | Mai Pakistani Novel PDF Download Free By Anil Mohan

    पाकिस्तान से अपने खूनी मकसद को लेकर आतंकवादी हिन्दुस्तान पहुंच गए। परंतु उनका राज़ खुल चुका था। और फिर शुरू हुआ देवराज...

    7 COMMENTS

    1. तीन दोस्तों की लंकेटींग , बी.डी.जीवी के लौंडौं की चुहलबाजी से लेकर बॉम्ब ब्लास्ट तक की एक कहानी।
      इस किताब के शुरुवात में जिग जिग्लर की एक लाईन लिखी है की,
      हर घटना के पीछे कोई कारण होता है। संभव है की यह घटित होते वक्त आपको न दिखे,
      लेकिन अंततः जब यह सामने आएगा, आप सन्न रह जाएँगे।
      ठीक इसी तरह आप इस किताब के अंत में सन्न रह जाएंगे ।

    2. तीन दोस्तों की लंकेटींग , बी.डी.जीवी के लौंडौं की चुहलबाजी से लेकर बॉम्ब ब्लास्ट तक की एक कहानी।
      इस किताब के शुरुवात में जिग जिग्लर की एक लाईन लिखी है की,
      हर घटना के पीछे कोई कारण होता है। संभव है की यह घटित होते वक्त आपको न दिखे,
      लेकिन अंततः जब यह सामने आएगा, आप सन्न रह जाएँगे।
      ठीक इसी तरह आप इस किताब के अंत में सन्न रह जाएंगे ।

    3. कोई किताब तो डाउनलोड होती ही नहीं 😔😔 हिंदीयुग पे जाके रुक जाती है…आगे प्रेस करो तो भी कुछ नहीं होता 😔😔😕😐

    4. Ek esa upanyas jisme har kisi ko apni Zaki hoti he.

    5. Error 404 aarha hai.

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    Most Popular

    औघड़ | Aughad

    पुस्तक का अंश : गर्मी जा चुकी थी, ठंड अपना...

    Rich Dad Poor Dad Hindi PDF Download Free by Robert Kiyosaki | रिच डैड पुअर डैड PDF

    यह बेस्टसेलिंग पुस्तक सरल भाषा में सिखाती है कि पैसे की सच्चाई क्या है और अमीर कैसे बना...

    [PDF] 12th Fail PDF Download in Hindi Free by Anurag Pathak | ट्वेल्थ फेल | Twelfth Fail PDF

    ट्वेल्थ फेल सच्ची कहानी और वास्तविक घटनाओं पर आधारित एक ऐसा उपन्यास है जिसने हिंदी साहित्य जगत में...

    बनारस टॉकीज / Banaras Talkies by Satya Vyas Download Free PDF

    पुस्तक का अंश : दर्शकों के समक्ष भरोसा हासिल करना
    यहाँ क्लिक कर किताब को रेट करें!
    (कुल: 11 औसत: 4.5)
    62 Shares
    62 Shares
    Copy link
    Powered by Social Snap
    %d bloggers like this: