सुहेलदेव भारत का रक्षक | SUHELDEV BHARAT KA RAKSHAK Hindi Pdf Download by Amish Tripathi

0 533

ग़ज़नी के महमूद और उसके बर्बर तुर्क गिरोहों के लगातार हमलों ने भारत के उत्तरी इलाकों को कमज़ोर कर दिया था। हमलावरों ने उपमहाद्वीप के बहुत बड़े इलाके को बर्बाद करने के लिए छीना-झपटी, हत्या, बलात्कार और लूटपाट का सहारा लिया। कई पुराने भारतीय साम्राज्य, जो अब तक थक चुके थे और बंटे हुए थे, उन हमलावरों के सामने टिक नहीं सके। जिन्होंने युद्ध के पुराने नियमों के साथ लड़ाई की, वे जीत के लिए हर बार नियमों को तोड़ने वाली बर्बर तुर्क सेना को रोकने में नाकाम रहे।

इसके बाद तुर्क देश के सबसे पवित्र मंदिरों में से एक—सोमनाथ में भगवान शिव के भव्य मंदिर—पर हमला करते हैं और उसे बर्बाद कर देते हैं। भारी निराशा से भरे इस काल में एक योद्धा राष्ट्र की रक्षा के लिए सामने आता है। महाराजा सुहेलदेव। एक छोटे से राज्य का ये शासक महसूस करता है कि अपनी मातृभूमि के लिए क्या किया जाना चाहिए, और इसके लिए वो अपना सब कुछ बलिदान करने को तैयार है। एक प्रचंड विद्रोही। एक करिश्माई नेता। एक पक्का देशभक्त। साहस और वीरता की इस रोमांचक महागाथा को पढ़िए, जो सच्ची घटनाओं पर आधारित है, और शेर के समान उस निडर योद्धा और बहराइच के महासंग्राम की याद दिलाती है।

Ghazni’s Constant Attacks By Mahmud And His Barbaric Ottoman Gangs Weakened The Northern Regions Of India. The Attackers Resorted To Snatching, Murder, Rape And Looting To Devastate A Large Area Of​​The Subcontinent. Many Old Indian Kingdoms, Who Were Still Exhausted And Divided, Could Not Stand Up To The Invaders. Those Who Fought With The Old Rules Of War Failed To Stop The Barbaric Ottoman Army Breaking The Rules Every Time To Win. The Turks Then Attack And Destroy The Grand Temple Of Lord Shiva At Somnath, One Of The Most Sacred Temples In The Country. In This Period Of Great Despair, A Warrior Comes Forward To Protect The Nation. Maharaja Suheldev. This Ruler Of A Small State Realizes What Needs To Be Done For His Motherland, And Is Willing To Sacrifice Everything For This. A Fierce Rebel. A Charismatic Leader. A Firm Patriot. Read This Thrilling Epic Story Of Courage And Valor. 

Suheldev bharat ka rakshak pdf download, Suheldev pdf in hindi download, Suheldev book pdf download, Suheldev bharat ka rakshak book download pdf, Suheldev by amish book download, Legend of suheldev pdf in hindi, Legend of suheldev in hindi pdf download.

Leave A Reply

Your email address will not be published.