Home कहानियाँ / Stories लल्ला- बाबू की वापसी दीदी: दो कहानियां | Lalla Babu Ki...

लल्ला- बाबू की वापसी दीदी: दो कहानियां | Lalla Babu Ki Vapsi Aur Dadi: Do Kahaniyan Hindi PDF Download Free by Ravindra Nath Tagore

Raicharan was twelve years old when he was first reinstated on the job. He owned a house in Jasore district. He had long hair, big eyes and a black smooth slim body. He was a Kayastha of caste and his boss was also Kayastha. The owner had a year-old child, feeding, maintaining and rotating, that was his job. Gradually, that child left Raicharan’s lap and entered college and then left for college in Munsifi. Raicharan was still his servant. Now one of its owners has increased, ‘Bahuji’ has come to the house. Therefore, most of the new housewives have got the right as much as Raicharan had before on favorable Babu.
But as soon as the owner reduced the earlier right of Raicharan, in the same way, by giving a new right, he also fulfilled a lot of it. A few days later, a boy of favorable age has been born and Raicharan has adopted him more than just his efforts and hard work.To the child, he swings with such enthusiasm, holding his two hands so cleverly, bounces up, keeps asking questions like this, without taking any hope of an answer, and taking his head near his mouth like that. Shakes that he becomes a kuppa after seeing the little one like Rai Charan.

पुस्तक का विवरण (Description of Book)

Particulars(विवरण) eBook Details (Size, Writer, Lang. Pages(आकार, लेखक, भाषा,पृष्ठ की जानकारी)
पुस्तक का नाम / Name of Book लल्ला- बाबू की वापसी दीदी: दो कहानियां | Lalla Babu Ki Vapsi Aur Dadi: Do Kahaniyan
 पुस्तक का लेखक / Name of Authorरवींद्रनाथ टैगोर / Ravindra Nath Tagore
 पुस्तक की भाषा / Language of Book हिंदी / Hindi
 पुस्तक का आकार / Size of Book  1 MB
  कुल पृष्ठ / Total Pages  25
 पुस्तक की श्रेणी / Category of Bookकहानियां Stories
यहाँ क्लिक कर किताब को रेट करें!
(कुल: 3 औसत: 4.3)
रवींद्रनाथ टैगोर / Ravindra Nath Tagore
रवींद्रनाथ ठाकुर का जन्म महर्षि देवेंद्रनाथ टैगोर और शारदा देवी की संतान के रूप में 7 मई, 1861 को कलकत्ता के जोड़ासाँको ठाकुरबाड़ी में हुआ। उनकी स्कूली शिक्षा प्रतिष्‍ठित सेंट जेवियर स्कूल में हुई। लंदन विश्‍वविद्यालय से कानून का अध्ययन किया। सन् 1883 में मृणालिनी देवी के साथ उनका विवाह हुआ। बचपन से ही उनकी कविता, छंद और भाषा में अद‍्भुत प्रतिभा का आभास मिलने लगा था। उन्होंने पहली कविता आठ साल की उम्र में लिखी थी और 1883 में केवल सोलह साल की उम्र में उनकी लघुकथा प्रकाशित हुई। भारतीय सांस्कृतिक चेतना में नई जान पूँक्‍तकनेवाले युगद्रष्‍टा टैगोर के सृजन संसार में ‘गीतांजलि’, ‘पूरबी प्रवाहिनी’, ‘शिशु भोलानाथ’, ‘महुआ’, ‘वनवाणी’, ‘परिशेष’, ‘पुनश्‍च’, ‘वीथिका शेषलेखा’, ‘चोखेरबाली’, ‘कणिका’, ‘नैवेद्य’ ‘मायेर खेला’ और ‘क्षणिका’ आदि शामिल हैं। उन्होंने कुछ पुस्तकों का अंगेजी में अनुवाद भी किया। अंग्रेजी अनुवाद के बाद उनकी प्रतिभा पूरे विश्‍व में फैली। प्रकृति के सान्निध्य में एक लाइब्रेरी के साथ टैगोर ने शांतिनिकेतन की स्थापना की। सन् 1913 में उनकी काव्य-रचना ‘गीतांजलि’ के लिए उन्हें साहित्य का ‘नोबेल पुरस्कार’ मिला। स्मृतिशेष: 7 अगस्त, 1941.
RELATED ARTICLES

किंचुलका: नैनं छिन्दन्ति शस्त्राणि | Kinchulka : Nainam Chindanti Shastrani Hindi PDF Download Free by Vikas Bhanti

"पापा, क्या हम राक्षस हैं?" "तो फिर हमारे पूर्वज किंचुलका को किंचुलकासुर क्यों कहते हैं?" भूत,...

एडियोस ढाई आखर की ढाई कहानियाँ | Adios Dhai Aakhar Ki Dhai Kahaniyan Hindi PDF Download Free by Dr. Jitendra Kumar Soni

Adios: Dhai Aakhar Ki Dhai Kahaniyan | एडियोस: ढाई आखर की ढाई कहानियाँ प्यार कभी भी पूर्णता से बताया...

राम (राम-रावण कथा खण्ड-तीन) | Ram (Ram-Ravan katha Book 3) Hindi PDF Download Free by Sulabh Agnihotri

रामकथा को अलौकिकता के दायरे से निकालकर, मानवीय क्षमताओं के स्तर पर परखने की शृंखला का नाम है ‘राम-रावण कथा’। इसकी विशेषता...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

औघड़ | Aughad

पुस्तक का अंश : गर्मी जा चुकी थी, ठंड अपना...

Rich Dad Poor Dad Hindi PDF Download Free by Robert Kiyosaki | रिच डैड पुअर डैड PDF

यह बेस्टसेलिंग पुस्तक सरल भाषा में सिखाती है कि पैसे की सच्चाई क्या है और अमीर कैसे बना...

[PDF] 12th Fail PDF Download in Hindi Free by Anurag Pathak | ट्वेल्थ फेल | Twelfth Fail PDF

ट्वेल्थ फेल सच्ची कहानी और वास्तविक घटनाओं पर आधारित एक ऐसा उपन्यास है जिसने हिंदी साहित्य जगत में...

बनारस टॉकीज / Banaras Talkies by Satya Vyas Download Free PDF

पुस्तक का अंश : दर्शकों के समक्ष भरोसा हासिल करना
यहाँ क्लिक कर किताब को रेट करें!
(कुल: 3 औसत: 4.3)
Copy link
Powered by Social Snap